Tue. Feb 7th, 2023
Diet Plan for Immunity in Hindi
0
()

Diet Plan for Immunity in Hindi: इम्यून सिस्टम को मजबूत करना है, तो अपनाये यह डाइट प्लान! आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में और कोरोना काल में वायरस जैसी समस्या से बचने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करना बेहद जरूरी है। रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होने के कारण कोई भी बीमारी शरीर पर जल्दी हावी नहीं होती है। ऐसे में लोगों को अपना ख्याल रखना चाहिए। सिर्फ मास्क लगाना ही जरूरी नहीं है, बल्कि रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए पौष्टिक आहार लेने की जरूरत है। कुछ ऐसे विटामिन और खनिज हैं जो आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने में मदद करते हैं। आइए आज के लेख के जरिए हम आपको इम्यूनिटी बढ़ाने के डाइट प्लान के बारे में बताते हैं।

स्वस्थ शरीर खतरनाक बीमारियों से तभी लड़ सकता है जब शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत रहता है। कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता वाले लोग अक्सर बीमार पड़ते हैं। जिनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर है, उनके वायरस से संक्रमित होने की संभावना ज्यादा है। आप अपनी डाइट में बदलाव कर इम्यून सिस्टम को मजबूत बना सकते हैं। इसके लिए खास डाइट प्लान अपनाकर देखें। हम आपको बता रहे हैं सुबह, दिन, शाम और रात में कुछ खास फूड खाने के बारे में। अगर आप कुछ हफ्तों तक रोजाना या दो-तीन दिन इसका पालन करते हैं, तो यह इम्यून सिस्टम (Diet plan to boost immunity) को बढ़ावा देने में मदद करेगा।

Diet Plan for Immunity in Hindi

इम्युनिटी क्या हैं ? What is Immunity in Hindi

इम्यूनिटी हमारे शरीर में बीमारियों से लड़ने में मदद करती है। ये टॉक्सिन बैक्टीरिया, वायरस, फंगस, हानिकारक पदार्थ हैं। अगर हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत है तो हम आसानी से बीमार नहीं पड़ते। रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होने से व्यक्ति को सर्दी-जुकाम जल्दी नहीं होता, बल्कि फेफड़ों के संक्रमण, किडनी के संक्रमण, हेपेटाइटिस जैसी कई बीमारियों से भी बचाव होता है।

See also  How to Improve Mental Health in Hindi:- मानसिक स्वास्थ्य में सुधार कैसे करें

इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने के लिए नाश्ते में खाएं ये चीजें

आप नाश्ते में खट्टे फलों को जरूर शामिल करें। सबसे पहले आप एक गिलास नींबू पानी पिएं। एक संतरा, 1 कप दलिया, 10-12 दाने किशमिश आदि जरूर शामिल करें। आप एक गिलास संतरे का जूस भी पी सकते हैं। आंवला भी इन दिनों भरपूर मात्रा में उपलब्ध है तो इसका सेवन कर आप भी इम्युनिटी स्ट्रांग (Diet Plan for Immunity in Hindi) बना सकते हैं।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए क्या खाएं ? Foods for Increase Immunity in Hindi

  • विटामिन सी Vitamin C– विटामिन सी से भरपूर फल हैं अंगूर, संतरा, कीनू, मीठी लाल मिर्च, ब्रोकोली, स्ट्रॉबेरी, केल और कीवीफ्रूट आदि। इन खाद्य पदार्थों का उपयोग सफेद रक्त कोशिका के उत्पादन को बढ़ाने के लिए किया जाता है, जो संक्रमण से लड़ने के लिए महत्वपूर्ण है।
  • विटामिन D Vitamin D – शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए विटामिन डी एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है। इसकी खुराक हमें श्वसन तंत्र के संक्रमण से सुरक्षा प्रदान करती है। वैसे तो अधिकतर लोगों में विटामिन-डी की कमी होती है, इसलिए रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए डॉक्टर विटामिन-डी युक्त आहार लेने की सलाह देते हैं।
  • जिंक Zinc– जिंक शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में लाभकारी होता है। आपको बता दें कि यह (श्वेत रक्त कोशिका) का एक महत्वपूर्ण घटक है जो संक्रमण से लड़ता है। जिंक की कमी अक्सर फ्लू, सर्दी और अन्य वायरल संक्रमणों के लिए एक और अतिसंवेदनशील बनाती है। खासतौर पर उम्रदराज लोगों के लिए जिंक सप्लीमेंट लेना उचित माना जाता है। अगर आप रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना चाहते हैं तो अपने आहार में जिंक युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करें।
  • हल्दी और लहसुन Turmeric and Garlic– हल्दी में करक्यूमिन नामक यौगिक होता है, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। लहसुन में शक्तिशाली एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीवायरल गुण होते हैं जो शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए खाने में हल्दी और लहसुन जरूर शामिल करें।
  • एल्डरबेरी Elderberry- एल्डरबेरी फॉस्फोरस, पोटेशियम, आयरन, कॉपर, और विटामिन जैसे विटामिन ए, बी, और सी, प्रोटीन और आहार फाइबर सहित पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। एल्डरबेरी में जीवाणुरोधी और एंटीवायरल गुण होते हैं जो सर्दी और इन्फ्लूएंजा से लड़ने में मदद करते हैं। इन्हें अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए।
  • एंटीऑक्सीडेंट Antioxidant- ग्रीन टी यानी ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट अच्छी मात्रा में होते हैं। यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने में मदद करता है। इसमें अच्छी मात्रा में अमीनो एसिड भी होते हैं जो आपके टी-कोशिकाओं में रोगाणु से लड़ने वाले यौगिकों के उत्पादन में सहायता कर सकते हैं, जो शरीर में सूजन को कम करते हैं और संक्रमण से लड़ने में मदद करते हैं। ग्रीन टी का सेवन गर्म, ठंडा या माचा पाउडर के रूप में किया जा सकता है।
  • विटामिन E Vitamin E– विटामिन ई हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने वाला एक महत्वपूर्ण घटक है। हालांकि नट, बीज और साग विटामिन ई एक वसा में घुलनशील विटामिन है जो प्रतिरक्षा प्रणाली के कार्य को विनियमित करने और समर्थन करने में महत्वपूर्ण है। विटामिन ई से भरपूर खाद्य पदार्थों में मेवे, बीज, एवोकाडो और पालक शामिल हैं।
See also  Benadryl DR Syrup 100 ml uses in Hindi:- फायदे और नुकसान सम्पूर्ण जानकारी?

दोपहर के भोजन से पहले प्रतिरक्षा को मजबूत करने के लिए
चूंकि, आप 8-9 बजे नाश्ता कर लेते हैं, इसलिए आपको 12 बजे तक थोड़ी भूख लग सकती है। भूख को शांत करने के लिए आप 1 सेब या 1 चीज़ क्यूब का सेवन कर सकते हैं (डाइट प्लान टू बूस्ट इम्युनिटी)।
इम्युनिटी बढ़ाने के लिए लंच में इसे खाएं
दिन में लंच टाइम में दो रोटी, 1 कप ब्राउन राइस, एक कटोरी मिली-जुली दाल, एक कटोरी हरी सब्जियां, सलाद, गार्लिक ब्रेड आदि का सेवन करें।

शाम के स्नैक्स में शामिल करें ये 2 फूड्स
दिन भर का खाना पच चुका है और शाम को भूख लग रही है तो आप एक कटोरी पॉपकॉर्न और एक कप ग्रीन टी ले सकते हैं।

इम्युनिटी मजबूत करने के लिए रात के खाने में इसे खाएं
अगर आपको रोटी खानी है तो आप 2 रोटी या एक कप ब्राउन राइस खा सकते हैं। इसके साथ ही 1 चम्मच पनीर, एक कटोरी दही, एक कटोरी कम तेल और मसाले में पकी या उबली हुई सब्जियां लें। अपने आहार में मौसमी फल और सब्जियों को शामिल करने की कोशिश करें। इसमें पत्ता गोभी, पालक, ब्रोकली, आंवला, मूली, गाजर आदि भरपूर मात्रा में होने चाहिए।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के अन्य तरीके? Other Tips for Increase Immunity in Hindi

  • रोग प्रतिरोधक क्षमता को बनाए रखने के लिए व्यक्ति को अपनी जीवनशैली में निम्नलिखित सुधार करने चाहिए।
  • बीमारियों का दौर चल रहा है इसलिए लोगों को ठंडे पानी की जगह गर्म पानी पीना चाहिए।
  • सुबह जल्दी उठकर कुछ व्यायाम और योग करना चाहिए।
  • भोजन सही समय पर करना चाहिए।
  • कम से कम सात से आठ घंटे की नींद जरूर लें।
  • शराब और धूम्रपान से दूर रहें।
  • जितना हो सके स्वच्छता बनाए रखें।
  • किसी बीमार व्यक्ति के संपर्क में आने से खुद को बचाएं।
See also  Menstruation & Menstrual Cycle:- मासिक धर्म और मासिक धर्म चक्र लक्षण, दर्द से राहत और उपचार

अगर आप रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के बारे में अधिक जानकारी चाहते हैं तो नजदीकी जनरल फिजिशियन से संपर्क करें।
हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी भी तरह की दवा, इलाज की सलाह नहीं देते हैं। केवल एक डॉक्टर ही आपको अच्छी सलाह दे सकता है। क्योंकि उससे अच्छा कोई नहीं है।

Diet Plan for Immunity in Hindi

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी?

इसे रेट करने के लिए स्टार पर क्लिक करें!

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई वोट नहीं! इस पोस्ट को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

जैसा कि आपको यह पोस्ट उपयोगी लगी...

Follow us on social media!

हमें खेद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी नहीं थी!

आइए इस पोस्ट को सुधारें!

हमें बताएं कि हम इस पोस्ट को कैसे सुधार सकते हैं?

By Team Counting Flybeast

हमारी वेबसाइट में आपका स्वागत है, यह एक हिंदी वेबसाइट है जहाँ पर आपको हिंदी में हर तरह की जानकारी जैसे की Technology, Facts, Sarkari Yojana, Hindi Biography, Tips-Tricks, Health, Finance आदि उपलब्ध कराए जाएंगे और जो भी पोस्ट प्राप्त करेगा वह आपको अधिक से अधिक सही जानकारी के साथ मिल जाएगा ताकि आपको समझने में कोई परेशानी न हो और आप बेहतर हो जाएं आप समझ सकते हैं और आप जो भी सर्च करना चाहते हैं, इस वेबसाइट के नाम को अपने टॉपिक के नाम के साथ गूगल में डालने से आपको मिल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *