Mon. Feb 6th, 2023
Sapne Kyu Aate Hai
0
()

सपने-Dreams  वे Stories और Pictures हैं जो सोते समय हमारे दिमाग में बनती हैं। वे Amusing, Funny, Romantic, Disturbing, Terrifying और कभी-कभी विचित्र हो सकते हैं। सपने Scientists और Psychological Doctors के लिए रहस्य का एक स्थायी स्रोत रहे हैं। सपनों का असली रहस्य आज तक कोई नहीं जान पाया है कि Sapne Kyu Aate Hai?

Dreams सभी को सोते समय यानि नींद में सपने आते हैं। हममें से ज्यादातर लोग जागने पर dream की घटना को भूल जाते हैं लेकिन कुछ सपने memory में भी रह जाते हैं। याद रखने वाले सपने कम होते हैं। कुछ सपने अच्छे होते हैं तो कुछ बुरे। Good Dreams आने पर मन खुश होता है, लेकिन Bad Dreams बहुत भयावह होते हैं। डर से नींद जाग जाती है, दिल जोर-जोर से धड़क रहा होता है, कभी-कभी पसीना आता है। मन में विचार आता है कि बुरा सपना या डरावना सपना क्यों आया।

सपने कब, क्यों और कैसे आते हैं

ऐसा कहा जाता है कि सपने देखना एक Normal Process है। कभी सोते समय तो कभी जागते समय सपने आते हैं। सपने हमारे Subconscious Mind में ही आते हैं और Subconscious State में दिखने वाले सपनों का कभी कोई कारण हमारे Present से मिलता-जुलता होता है तो कभी हमारा Future से मिलता-जुलता होता है। आप ज्यादातर सपनों में देखते हैं कि वास्तविक जीवन में आपके आसपास क्या हो रहा है जैसे कि अगर आप कोई horror movie देखते हैं तो हो सकता है कि आपको डरावने सपने आए। हालांकि Sapne Kyu Aate Hai? इसका अभी तक कोई ठोस प्रमाण नहीं मिल पाया है, लेकिन कई वैज्ञानिकों ने इस पर शोध किया है और बताया है कि सपने किसी खास वजह से ही आते हैं और उनके अलग-अलग मायने होते हैं।


What Is The Law Of Attraction & How Does It Work?

आइए आपको बताते हैं सपने कब, क्यों और कैसे आते हैं।

एक शोध के अनुसार, जब हम गहरी नींद में सो रहे होते हैं, तो हमारे मस्तिष्क में कुछ Neurons धीरे-धीरे एक Natural Electric Wave द्वारा चार्ज होते हैं। चार्ज होने के बाद ये कोशिकाएं अपने Neighboring Cells को प्रोत्साहित करती हैं। इसके परिणामस्वरूप हम सपने देखते हैं। सपने कभी-कभी हमारी रचनात्मकता का भी प्रमाण होते हैं और ऐसा माना जाता है कि जो व्यक्ति अधिक Creative होता है वह अधिक सपने देखता है। कई बार इन सपनों का कोई मतलब नहीं होता लेकिन कई बार ये किसी Real life event से जुड़े होते हैं या भविष्य की ओर संकेत करते हैं। सपने (Meaning to see Ganpati in a dream) भी तब दिखाई देते हैं जब हम किसी गतिविधि की प्रतीक्षा कर रहे होते हैं लेकिन किसी कारणवश यह वास्तविक जीवन में नहीं हो पाता है।

See also  Facts About Indian Army

हम दिन में किसी भी समय सपने देख सकते हैं या रात में, दिन में आने वाले सपनों के अलग-अलग अर्थ होते हैं और रात में आने वाले सपनों के अलग-अलग अर्थ होते हैं, आइए जानते हैं Sapne Kyu Aate Hai

Let us tell you when, why and how dreams come.

  • किसी व्यक्ति को मृत देखना- यदि आप सपने में किसी की Death का सपना देखते हैं तो यह शुभता का संकेत देता है। इसका मतलब है कि आपकी कोई बड़ी समस्या दूर होने वाली है और जीवन में सफलता निश्चित है।
  • सांप के काटने का सपना- अगर आपको सपने में सांप ने काट लिया है या सांप अपना फन फैलाकर बैठा है तो इस सपने का परिणाम बहुत ही शुभ होता है। ऐसा सपना बताता है कि धन लाभ के साथ-साथ आपकी प्रतिष्ठा में भी वृद्धि होने वाली है।
  • अपने आपको खुश होकर नाचते हुए देखना- यदि आप सपने में खुश होकर नाच रहे हैं, या आप हल्दी का सेवन कर रहे हैं तो यह आपके विवाह के बहुत जल्द संकेत हैं। ऐसा सपना आपके भावी वैवाहिक जीवन को दर्शाता है।
  • आंखों में काजल लगाना– शारीरिक कष्ट होना
  • भेडिय़ा देखना– दुश्मन से भय
  • पहाड़ हिलते हुए देखना– किसी बीमारी का प्रकोप होना
  • स्वयं को उड़ते हुए देखना– किसी मुसीबत से छुटकारा
  • किसी से लड़ाई करना– प्रसन्नता प्राप्त होना
  • लड़ाई में मारे जाना– राज प्राप्ति के योग

जब हम सपने देखते हैं

हम सोने जाते हैं तो नींद धीरे-धीरे हमें अपनी गोद में ले लेती है, हमें पता ही नहीं चलता कि हम कब deep sleep में लीन हो गए हैं। दरअसल इस प्रक्रिया के कुछ चरण ऐसे होते हैं जिनसे होकर हम सोते हैं। विशेषज्ञों के अनुसार, नींद के चार चरण होते हैं।

  1. जब हम सोने के लिए बिस्तर पर लेटते हैं, तो नींद का पहला चरण शुरू होता है। इस अवस्था में हम Relatively Awake और Alert होते हैं। मन धीमा होने लगता है और विश्राम की स्थिति में आ जाता है।
    यह अवस्था Raw sleep है। इस समय आपको कुछ अजीब अनुभव हो सकते हैं जैसे आप गिर रहे हैं या कोई आपका नाम पुकार रहा है या आपको झटका लग सकता है।
  2. यह Waking state से Dormant state में जाने के बीच का समय है। इस अवस्था में शरीर का तापमान कम हो जाता है, आसपास क्या हो रहा है, पता नहीं चलता, breathing और heartbeat धीमी, नियमित और एक समान हो जाती है।
  3. इस अवस्था में Muscles Relax हो जाती हैं, Blood Pressure कम हो जाता है और सांस लेने की गति धीमी हो जाती है। गहरी नींद में लीन हो जाते है। इस अवस्था में बाहर या आसपास कुछ भी नजर नहीं आता। कई बार कांपने के बाद भी वे उठ नहीं पाते हैं। इस अवस्था में Sleepwalkers (नींद में )चलते हैं।
  4.  सपने आने वाली अवस्था-

    इस अवस्था में जब शरीर आराम की अवस्था में होता है तो मन काम करना शुरू कर देता है। आंखें तेजी से चलती हैं। सांस लेने की गति बढ़ जाती है। ज्यादातर सपने इसी अवस्था में आते हैं। इस अवस्था में मस्तिष्क और अन्य अंग काम करना शुरू कर देते हैं, लेकिन मांसपेशियां पूरी तरह से loose और Rest की स्थिति में होती हैं।

    इन सभी अवस्थाओं से गुजरने के बाद नींद का एक चक्र पूरा होता है। एक रात की नींद में ऐसे चार से पांच चक्र होते हैं। एक चक्र में लगभग डेढ़ घंटे का समय लगता है। यह समय कम और ज्यादा होता रहता है।

जब हम नींद में होते हैं, तो मस्तिष्क में मौजूद Commemoration, Idea, Wishes और भावनाएं मिलकर मस्तिष्क में dream उत्पन्न करती हैं। सपने देखना चेतन मन की एक प्रक्रिया है।

जो सपने हम REM Sleep( Rapid eye movement sleep) की अवस्था में आए हैं। हम रात भर सोते समय तीन से चार बार REM Sleep की स्थिति में होते हैं। प्रारंभ में, REM Sleep थोड़े समय के लिए रहता है लेकिन बाद के चक्रों में इसका समय बढ़ जाता है और अंतिम चक्र में यह लगभग एक घंटे तक बढ़ सकता है।

REM अवस्था अंतिम चक्र में अधिक समय तक चलती है। इसलिए अक्सर सुबह के सपने याद आते हैं।


Diwali Kyu Manaya Jata Hai In Hindi

डरावने सपने आने के कारण 

  • Vastu के अनुसार सोते समय सिर South की और पैर North की ओर होने चाहिए। लेकिन अगर सोते समय आपका सिर बेडरूम में मौजूद Washroom की तरफ है तो यह भी बुरे सपने आने का एक कारण हो सकता है। क्योंकि Washroom की सारी नेगेटिव एनर्जी आपके दिमाग के जरिए आपके शरीर में प्रवेश करती है और इसके परिणामस्वरूप बुरे सपने आते हैं।
  • जिस बिस्तर पर आप सोते हैं उसमें पड़ा हुआ Trashy भी आपके बुरे सपनों का कारण हो सकता है। बहुत से लोग बेकार की चीजों को अपने बिस्तर के डिब्बे में रख देते हैं। जहां घर में कभी भी बेकार या बुरी चीजें नहीं रखनी चाहिए, वहीं ये चीजें घर में negative energy लाती हैं।
  • बहुत से लोग अपने बिस्तर के नीचे जूते और चप्पल रखते हैं। जबकि ऐसा करना उनकी नींद के लिए ठीक नहीं होता है। बिस्तर के नीचे जूते-चप्पल रखने से Negative Energy बढ़ती है। और इसका सीधा असर व्यक्ति के दिमाग पर पड़ता है।
  • रात में डरावने सपने आने का एक कारण Stress लेना भी है। Stress के कारण हमारे दिमाग की कोशिकाएं ठीक से काम नहीं कर पाती हैं। और mind imagination करने लगता है।
  • अगर आप गहरे रंग की चादर ओढ़ कर सोते हो या Dark Color की चादर पर सोते हैं, तो आपको रात में डरावने सपने आ सकते हैं। इसलिए गहरे रंग का प्रयोग न करें।

अगर आपको यह Blog Sapne Kyu Aate Hai पसंद आया है, तो इसे Share करें और इसी तरह के अन्य Blog को पढ़ने के लिए वेबसाइट www.countingflybeast.com से जुड़े रहें।

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी?

इसे रेट करने के लिए स्टार पर क्लिक करें!

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई वोट नहीं! इस पोस्ट को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

जैसा कि आपको यह पोस्ट उपयोगी लगी...

Follow us on social media!

हमें खेद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी नहीं थी!

आइए इस पोस्ट को सुधारें!

हमें बताएं कि हम इस पोस्ट को कैसे सुधार सकते हैं?

By Team Counting Flybeast

हमारी वेबसाइट में आपका स्वागत है, यह एक हिंदी वेबसाइट है जहाँ पर आपको हिंदी में हर तरह की जानकारी जैसे की Technology, Facts, Sarkari Yojana, Hindi Biography, Tips-Tricks, Health, Finance आदि उपलब्ध कराए जाएंगे और जो भी पोस्ट प्राप्त करेगा वह आपको अधिक से अधिक सही जानकारी के साथ मिल जाएगा ताकि आपको समझने में कोई परेशानी न हो और आप बेहतर हो जाएं आप समझ सकते हैं और आप जो भी सर्च करना चाहते हैं, इस वेबसाइट के नाम को अपने टॉपिक के नाम के साथ गूगल में डालने से आपको मिल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *