Mon. Feb 6th, 2023
Snoring Problem
0
()

Kharate- खर्राटे / Snoring आपकी नींद से जुड़ी एक बहुत बड़ी problem है। सोते समय ज्यादातर खर्राटे आपकी सांसों के साथ-साथ बहुत तेज आवाज और Vibration होता है जिसे Kharate/ खर्राटे / Snoring कहा जाता है  आपको बता दें कि खर्राटों की आवाज मुंह या नाक से आती है। आपके सोने के बाद खर्राटों की आवाज चालू और बंद होती रहती है।

Kharate Ke Lakshan Aur Upaay

लोगों में यह आम धारणा है कि अत्यधिक थकान के कारण Kharate/ खर्राटे / Snoring आते हैं। लेकिन असल में ऐसा नहीं है। खर्राटे आने का मुख्य कारण सांस लेने में रुकावट है। जब कोई व्यक्ति सोता है तो उसके मुंह और नाक के अंदर की हवा ठीक से फ्लो नहीं करती  है। यही कारण है कि Kharate/ खर्राटे / Snoring की स्थिति उत्पन्न होने लगती है। कुछ लोगों में नाक की हड्डी टेढ़ी-DNS हो जाती है, जिससे सांस लेना मुश्किल हो जाता है। बाद में इसी वजह से खर्राटे आने लगते हैं। कई बार इंसान की नाक में मांस ज्यादा बढ़ जाता है, जिससे खर्राटे भी आने लगते हैं।

खर्राटे क्यों आते हैं-why snoring

  1. जब भी किसी का वजन बढ़ता है तो उसके गले से अधिक मात्रा में चर्बी लटकने लगती है। और रात को सोते समय इस excess fat के कारण breathing tube बंद हो जाती है। और आपको सांस लेने में तकलीफ होती है।
  2. शराब के अधिक सेवन से कई बार आपके गले की मांसपेशियां damaged हो जाती हैं। और उसकी वजह से आपको खर्राटे आते हैं।
  3. जब भी आप सभी सोते हैं तो आपके गले का पिछला हिस्सा थोड़ा narrow हो जाता है। और फिर संकरी जगह के कारण ऑक्सीजन आने लगती है। और उसकी वजह से आपके आस-पास के टिश्यू हिलने लगते हैं।
  4. कभी-कभी आपको Cold हो जाती है और आपकी Nose लंबे समय तक बंद रहती है। इसलिए आपको डॉक्टर के पास जाकर इसे करवाना चाहिए। नींद की गोलियां, एंटी-एलर्जी दवाएं आपके respiratory system की मांसपेशियों को सुस्त कर देती हैं। और उसकी वजह से आप बार-बार खर्राटे लेते रहते हैं
  • गलत करवट सोना
  • शराब का सेवन करके सोना
  • Tonsils या एडेनॉयडस के आकार में Enlargement
  • नाक में साइनस बढ़ना
  • नेजल पालिप्कस
  • पीठ के बल सोना, जिससे जबान पीछे गिर कर सांस नली को बहुत बाधित कर देती है।
  • उम्र बढ़ने के साथ गले की मांसपेशियां में ढीलापन
See also  How to wake up early in the morning:-सुबह जल्दी कैसे उठें
Hiccups Meaning in Hindi

Symptoms Of Snoring

खर्राटे के लक्षण

  • तेज आवाज के साथ सांस अंदर-बाहर करना।
  • कई बार सीमित समय के लिए सांस फूलना।
  • सांस लेने का अधिक समय जो कुछ समय तक रहता है।
  • कई बार सोते समय सांस न ले पाने के कारण अचानक से उठ जाना।
  • आपका शरीर दिन भर सुस्त और आलस्य बना रहता है।
  • पूरी रात सोने के बाद भी दिन में नींद आना
  • बहुत थकान महसूस होना।

kharate ka ilaj-

खर्राटे रोकने के लिए घरेलू उपाय

Home Remedies for Snoring Problem in Hindi

पुदीने का तेल: खर्राटों की समस्या के घरेलू उपचार

Peppermint Oil: Home Remedies for Snoring Problems

  • पुदीने में कई ऐसे तत्व होते हैं जो गले और नाक के cavity की inflammation को कम करने का काम करते हैं। इससे सांस लेना आसान हो जाता है। सोने से पहले पानी में पुदीने के तेल की कुछ बूंदें डालकर गरारे करें। इस उपाय को कुछ दिनों तक करते रहें। अंतर आपके सामने होगा।
  • एक कप उबलता पानी लें। इसमें 10 पुदीने की पत्तियां डालकर ठंडा होने के लिए रख दें. जब यह lukewarm water पीने योग्य हो जाए तो इसे छानकर या बिना छानकर पीएं। इससे खर्राटे की समस्या कुछ ही दिनों में ठीक हो जाती है।

दालचीनी: खर्राटों का इलाज करने के घरेलू उपचार हिंदी में

Cinnamon: Home Remedies to Cure Snoring in Hindi

  • Kharate- खर्राटे / Snoring की समस्या से छुटकारा पाने के लिए एक गिलास गुनगुने पानी में तीन चम्मच दालचीनी पाउडर मिलाकर पिएं। इसके लगातार सेवन से आपको कई फायदे देखने को मिलेंगे।
See also  How to Make Face Glow in Winter in Hindi: सर्दियों के मौसम में खोई जा रही है चेहरे की चमक, तो आजमाएं ये स्किन केयर टिप्स

लहसुन: खर्राटे ठीक करने का घरेलू उपाय हिंदी में

Snoring treatment using garlic

लहसुन Nasal passage में बलगम के निर्माण और respiratory system की सूजन को कम करने में मदद करता है। अगर आपको साइनस की वजह से खर्राटे आते हैं तो लहसुन आपको राहत देगा। लहसुन में घाव भरने के गुण होते हैं। ब्लॉकेज को दूर करने के साथ-साथ लहसुन respiratory system को बेहतर बनाने में भी मदद (kharate ka ilaj) करता है।

अच्छी और शांतिपूर्ण नींद के लिए लहसुन का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। लहसुन की एक या दो कलियां पानी के साथ लें। सोने से पहले इस उपाय को करने से आपको खर्राटों से राहत मिल सकती है, साथ ही आप चैन की नींद सो भी सकते हैं।

हल्दी और दूध: खर्राटों की समस्या के घरेलू उपचार हिंदी में

Turmeric and Milk: Home Remedies for Snoring Problem in Hindi

हल्दी में antiseptic और antibiotic गुण होते हैं। इसके प्रयोग से नाक साफ हो जाती है। इससे सांस लेना आसान हो जाता है। रोज रात को सोने से पहले हल्दी को दूध में (हल्दी वाला दूध) पकाने से लाभ होगा।

Other Home Remedies

  • एक चम्मच जैतून के तेल-olive oil में बराबर मात्रा में शहद मिलाकर रात को सोने से पहले इसका सेवन करें। गले में कंपन को कम करने और Kharate- खर्राटे / Snoring को रोकने के लिए इस उपाय का प्रयोग करें।
  • रात को सोने से पहले कुछ इलायची के दानों को गुनगुने पानी में मिलाकर पिएं। इससे समस्या से राहत मिलती है। सोने से कम से कम 30 मिनट पहले यह उपाय (kharaton ka desi ilaj) करें।
  • एक गिलास गर्म पानी में दो चम्मच शहद मिलाकर सोने से आधा घंटा पहले पिएं। शहद में anti-inflammatory properties होती हैं, जो गले और नाक की सूजन को रोकते हैं। इससे सांस लेने में आसानी होती है (kharaton ka desi ilaj)
See also  How to Gain Weight:- वजन कैसे बढ़ाएं

Your Lifestyle in Snoring Problem

  • Exercise करें
  • अपना वजन कम करें
  • सोने के लिए proper pillow 
  • सोने के लिए अलग-अलग पोजिशन अपनाएं
  • ज्यादा देर तक न जागें। इससे खर्राटे भी आने लगते हैं।

 

This Blog For informational purposes only.

Travel Blog Here

Pixaimages offers free stock images, photos and Travel Blogs.

 

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी?

इसे रेट करने के लिए स्टार पर क्लिक करें!

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई वोट नहीं! इस पोस्ट को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

जैसा कि आपको यह पोस्ट उपयोगी लगी...

Follow us on social media!

हमें खेद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी नहीं थी!

आइए इस पोस्ट को सुधारें!

हमें बताएं कि हम इस पोस्ट को कैसे सुधार सकते हैं?

By Team Counting Flybeast

हमारी वेबसाइट में आपका स्वागत है, यह एक हिंदी वेबसाइट है जहाँ पर आपको हिंदी में हर तरह की जानकारी जैसे की Technology, Facts, Sarkari Yojana, Hindi Biography, Tips-Tricks, Health, Finance आदि उपलब्ध कराए जाएंगे और जो भी पोस्ट प्राप्त करेगा वह आपको अधिक से अधिक सही जानकारी के साथ मिल जाएगा ताकि आपको समझने में कोई परेशानी न हो और आप बेहतर हो जाएं आप समझ सकते हैं और आप जो भी सर्च करना चाहते हैं, इस वेबसाइट के नाम को अपने टॉपिक के नाम के साथ गूगल में डालने से आपको मिल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *