Mon. Feb 6th, 2023
navratri 2022
0
()

Navratri 2022: नवरात्रि में लोग मां दुर्गा की पूजा करते हैं। नौ दिनों तक घर और मंदिर में माता की स्थापना करके विधि-विधान से पूजा-अर्चना करते हैं। इन नौ दिनों में मां के नौ अलग-अलग रूपों की पूजा की जाती है। 26 सितंबर 2022 Navratri का पहला दिन है जिसमें प्रतिपदा तिथि को कलश की स्थापना की जाएगी। आइए जानते हैं नवरात्रि मनाने के पीछे की पौराणिक कहानी।

पौराणिक कथा- Mythology

Navratri का त्योहार मनाने के पीछे शास्त्रों में दो कारण बताए गए हैं। पहली कथा के अनुसार महिषासुर नाम का एक राक्षस था जो ब्रह्मा जी का बहुत बड़ा भक्त था। उन्होंने अपनी तपस्या से ब्रह्मा को प्रसन्न किया और वरदान प्राप्त किया। वरदान में कोई भी देवता, दानव या पृथ्वी पर रहने वाला कोई भी मनुष्य उसे मार नहीं सकता था। वरदान पाकर वह बहुत निर्दयी हो गया और तीनों लोकों में आतंक मचाने लगा। उसके आतंक से परेशान होकर, देवी-देवताओं ने ब्रह्मा, विष्णु, महेश के साथ मिलकर माँ शक्ति के रूप में दुर्गा को जन्म दिया। नौ दिनों तक मां दुर्गा और महिषासुर के बीच भयंकर युद्ध हुआ और दसवें दिन मां दुर्गा ने महिषासुर का वध किया। इस दिन को अच्छाई पर बुराई की जीत के रूप में मनाया जाता है।

एक अन्य किंवदंती के अनुसार, भगवान राम ने लंका पर आक्रमण करने और रावण के साथ युद्ध जीतने से पहले, शक्ति की देवी भगवती की पूजा की थी। Rameswaram में उन्होंने नौ दिनों तक मां की पूजा की। उनकी भक्ति से प्रसन्न होकर माता ने श्रीराम को लंका में विजय प्राप्त करने का आशीर्वाद दिया। दसवें दिन, भगवान राम ने युद्ध में लंका राजा रावण को पराजित किया और उसे मार डाला और लंका पर विजय प्राप्त की। इस दिन को विजय दशमी के नाम से जाना जाता है।

See also  Top Real horror stories 2021 In Hindi:- खौफनाक सच्ची कहानियां

नवरात्रि के सभी दिनों में सुबह जल्दी उठकर स्नान कर स्वच्छ वस्त्र धारण करें। पहले दिन शुभ मुहूर्त में कलश स्थापना की प्रक्रिया पूरी करें। कलश में गंगाजल भरकर उसके मुख पर आम के पत्ते रख दें। कलश की गर्दन को पवित्र लाल धागे या मोली से लपेटें और नारियल को लाल चुनरी से लपेटें। आम के पत्तों के ऊपर नारियल रखें। कलश को पास या मिट्टी के बर्तन में रखें। जौ के बीज मिट्टी के बर्तन में बोयें और नवमी तक प्रतिदिन थोड़ा पानी छिड़कें। इन नौ दिनों में मां दुर्गा के मंत्रों का जाप करें। माँ को अपने घर बुलाओ। देवताओं की भी पूजा करें, जिसमें उनकी पूजा फूल, कपूर, अगरबत्ती, सुगंध और पके हुए व्यंजनों से करनी चाहिए।

आठवें और नौवें दिन वही पूजा करें और नौ कन्याओं को अपने घर आमंत्रित करें। ये नौ लड़कियां देवी दुर्गा के नौ रूपों का प्रतिनिधित्व करती हैं। इसलिए उन्हें साफ और आरामदायक जगह पर बिठाएं और उनके पैर धोएं। उनकी पूजा करें, उनके माथे पर तिलक लगाएं और उन्हें स्वादिष्ट भोजन दें। दुर्गा पूजा के बाद अंतिम दिन घाट विसर्जन करें।

Navratri 2022 किस दिन कौन सा योग- ज्योतिष गणना

  • प्रतिपदा (मां शैलपुत्री): 26 सितम्बर 2022
  • द्वितीया (मां ब्रह्मचारिणी): 27 सितम्बर 2022
  • तृतीया (मां चंद्रघंटा): 28 सितम्बर 2022
  • चतुर्थी (मां कुष्मांडा): 29 सितम्बर 2022
  • पंचमी (मां स्कंदमाता): 30 सितम्बर 2022
  • षष्ठी (मां कात्यायनी): 01 अक्टूबर 2022
  • सप्तमी (मां कालरात्रि): 02 अक्टूबर 2022
  • अष्टमी (मां महागौरी): 03 अक्टूबर 2022
  • नवमी (मां सिद्धिदात्री): 04 अक्टूबर 2022
  • दशमी (मां दुर्गा प्रतिमा विसर्जन): 5 अक्टूबर 2022
See also  Interesting Facts About Money Plant: मनी प्लांट लगाते समय न करें ये 16 गलतियां, फायदे की जगह हो जायगा नुकसान।

दशहरे का शुभ संयोग 2022

  • आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि के दिन दशहरा का पर्व मनाया जाता है। दशमी तिथि 4 अक्टूबर को दोपहर 2 बजकर 20 मिनट से शुरू होकर 5 अक्टूबर दोपहर 12 बजे तक रहेगी। इसलिए उदया तिथि होने के कारण 5 अक्टूबर को दशहरा का पर्व मनाया जाएगा।

दशहरा 2022 का शुभ मुहूर्त

विजयदशमी (दशहरा)- 5 अक्टूबर 2022, बुधवार

श्रवण नक्षत्र प्रारम्भ – 4 अक्टूबर 2022 को रात 10 बजकर 51 मिनट तक

Navratri 2022 दुर्गा पूजा-Durga Puja

  • पंचांग के अनुसार घटस्थापना का शुभ मुहूर्त 26 सितंबर 2022 की सुबह 05 बजकर 39 मिनट से शुरू होगा और 7 बजकर 13 मिनट तक रहेगा. वहीं, चौघड़िया का शुभ मुहूर्त 9 बजकर 3 मिनट से 10 बजकर 26 मिनट तक रहेगा.

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी?

इसे रेट करने के लिए स्टार पर क्लिक करें!

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई वोट नहीं! इस पोस्ट को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

जैसा कि आपको यह पोस्ट उपयोगी लगी...

Follow us on social media!

हमें खेद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी नहीं थी!

आइए इस पोस्ट को सुधारें!

हमें बताएं कि हम इस पोस्ट को कैसे सुधार सकते हैं?

By Team Counting Flybeast

हमारी वेबसाइट में आपका स्वागत है, यह एक हिंदी वेबसाइट है जहाँ पर आपको हिंदी में हर तरह की जानकारी जैसे की Technology, Facts, Sarkari Yojana, Hindi Biography, Tips-Tricks, Health, Finance आदि उपलब्ध कराए जाएंगे और जो भी पोस्ट प्राप्त करेगा वह आपको अधिक से अधिक सही जानकारी के साथ मिल जाएगा ताकि आपको समझने में कोई परेशानी न हो और आप बेहतर हो जाएं आप समझ सकते हैं और आप जो भी सर्च करना चाहते हैं, इस वेबसाइट के नाम को अपने टॉपिक के नाम के साथ गूगल में डालने से आपको मिल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *